गांधी मैदान के पास फिर गंदगी का ढेर

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने सफाई और स्वच्छता पर बहुत बल दिया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2 अक्टूबर 2014 को गांधी जयंती के मौके पर स्वच्छ भारत अभियान शुरु किया था. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इन दिनों चंपारण सत्याग्रह के शताब्दी समारोह में व्यस्त हैं. इस दौरान पटना को साफ़ सुथरा बनाने की प्रक्रिया भी जारी है. लेकिन पटना के ऐतिहासिक गांधी मैदान के आस पास नज़र दौड़ाने से लगता है कि सब कुछ केवल काग़ज़ पर ही हो रहा है. कम से कम 24 अप्रैल को दिन के दो बजे तो गांधी मैदान के उत्तरी हिस्से में गेट नंबर चार से थोड़ी ही दूर पश्चिम में जो स्थिति नज़र आई, उससे यही महसूस होता है.

गौर तलब है कि 17 अप्रैल को गांधी मैदान के इस हिस्से के ठीक सामने ज्ञान भवन में स्वतंत्रता सेनानियों के सम्मान में एक भव्य समारोह हुआ जिसमें राष्ट्रपति प्रणब मुख़र्जी भी शामिल हुए थे. इससे पूर्व 6 अप्रैल को बिहार के नगर विकास एवं आवास विभाग के मंत्री महेश्वर हजारी ने छ: साल से लंबित घर घर से कचरा उठाने की पटना नगर निगम की योजना का हरी झंडी दिखा कर उद्घाटन किया. इसके तहत 7 अप्रैल से बहुत से इलाकों से कचरा उठाने का काम भी शुरु हुआ, लेकिन गंदगी दूर होने का नाम नहीं ले रही है. यह बात भी याद रखने की है कि प्रकाश उत्सव के मौके पर यह पूरा इलाका बिल्कुल साफ़ सुथरा कर दिया गया था. लेकिन अब स्थिति पहले जैसी हो रही है.

Share

1 Comment on गांधी मैदान के पास फिर गंदगी का ढेर

  1. pran Mohan // April 26, 2017 at 4:43 pm // Reply

    Excellent work. keep going. Jai Bihar.

Leave a comment

Your email address will not be published.


*