अर्धनिर्मित पड़ा है गाँव का स्वास्थ्य केंद्र

गोविंद गंज विधानसभा क्षेत्र के नवादा गाँव में न तो स्वास्थ्य केंद्र है और ना ही आंगनवाड़ी काम करता है. इसके लिए गाँव वाले सरकार को कम और स्थानीय प्रशासन व नेताओं को ज्यादा दोषी मानते हैं. स्वास्थ्य केंद्र अर्धनिर्मित पड़ा है और जो आंगनवाड़ी केंद्र है वह भी बंद रहता है. लगभग 600 घरों वाले इस गाँव के निवासी इस स्थिति के लिए घोटालेबाज़ी को जिम्मेवार मानते हैं.

Health2नवादा के निवासी रविन्द्र कुमार कहते हैं: “इस गाँव में करीब दस साल पहले एक स्वास्थ्य केंद्र बन रहा था, जिसे ठेकदार ने अर्धनिर्मित छोड़ दिया और तब से यह उसी हालत में है.”

इस केंद्र में न तो चौखट है ना ही दरवाजा. यह खंडहर की तरह वीरान पड़ा है. उन्होंने कहा कि अस्पताल में एक भी डॉक्टर नहीं है. हां, कांति देवी नाम की एक नर्स ज़रूर हैं जो सप्ताह में दो दिन यहां ड्यूटी करने आती हैं.”

नवादा गाँव के आंगनवाड़ी केंद्र के बारे में बात हुए स्थानीय निवासियों ने शिकायत की कि यहां की जो सेविका और सहायका हैं वे दूसरे गाँव की हैं और महीने में बस एक दो बार ही आती हैं, वह भी तब जब कोई टीकाकरण अभियान चलता है.

Share

Leave a comment

Your email address will not be published.


*