नरचर प्लानेट ने वैशाली में की वृक्षारोपण अभियान की शुरूआत

जागृतबिहार ब्यूरो

गाजियाबाद: गत दिवस वैशाली के सैक्टर चार स्थित काली मंदिर पार्क में नगर निगम के आयुक्त श्री दिनेश चंद्र सिंह के निर्देशन में नरचर प्लानेट नामक स्वयं सेवी संस्था ने अनुभा जैन के नेतृत्व में वृक्षारोपण अभियान की शुरुआत की। इस अवसर पर निगम के उपायुक्त श्री शिवपूजन यादव, पर्यावरणविद, वरिष्ठ पत्रकार एवं लेखक श्री ज्ञानेन्द्र रावत, मीडिया एवं पर्यावरणीय मामलों के विश्लेषक श्री दीपक पर्वतियार, दिल्ली यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर श्री जितेन्द्र नागर ने वृक्षारोपण कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। साथ ही नगर निगम उपायुक्त श्री प्रमोद कुमार, सुश्री शैली अग्रवाल,रंजू मिनहास , श्री प्रवीन मिश्रा,सुश्री अनिला रामपुरिया , राखी, कल्याणी, सुषमा, श्री अवधेश कुमार व श्री आशीष शर्मा ने पार्क में पीपल, बरगद, जामुन, नीम, बेल एवं पिलखन के छायादार वृक्ष लगाकर कार्यक्रम को विस्तृत रूप प्रदान किया। स्थानीय निवासी एवम मिक्रोकॉउंट्स इंफोसिस्टम के मार्केटिंग निदेशक श्री प्रशांत सिन्हा ने अपनी तरफ से इस जगह एक गेट लगाने का संकल्प लिया।

वृक्षारोपण के अवसर पर जागृतबिहार के प्रधान संपादक दीपक पर्वतियार, आयोजक अनुभा जैन, वरिष्ठ पत्रकार एवम पर्यावरणविद ज्ञानेंद्र रावत तथा दिल्ली यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर जितेंद्र नागर

कार्यक्रम में निगम उपायुक्त श्री शिवपूजन यादव ने कहा कि वृक्षारोपण हेतु निगम हर संभव सहयोग देने के लिए कृतसंकल्पित है। दिल्ली यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर जितेन्दर नागर ने कहा कि वृक्षों को हमारे जीवन में आदिकाल से प्रमुखता दी जाती रही है। इनकी महत्ता को समझना होगा और इनकी हरसंभव रक्षा करनी होगी। श्री दीपक पर्वतियार ने कहा कि आज पर्यावरण रक्षा का सवाल सबसे अहम है। यदि इसकी रक्षा कर पाने में हम नाकाम रहे तो मानव सभ्यता ही खतरे में पड़ जायेगी। साथ ही श्री पर्वतियार ने नई दिल्ली के ग़ाज़ीपुर स्थित कचरों के डंपिंग ग्राउंड का उलकेख करते हुए कहा कि उसकी वजह से आसपास के 15 किलोमीटर क्षेत्र का भूमिगत जल प्रदूषित हो गया है जिसका प्रभाव सबसे ज्यादा ग़ाज़ियाबाद जिले में पड़ा है। हालांकि ग़ाज़ीपुर उत्रार प्रदेश सरकार के अधिकार क्षेत्र के बाहर है, श्री पर्वतियार ने
नगर निगम उपायुक्त श्री प्रमोद कुमार से ग़ज़िआबाद के प्रभावित क्षेत्रों में रह रहे गण मान्य नागरिकों का एक ग्रुप बनाने का आग्रह किया जो दिल्ली के प्रभावित क्षेत्रों के लोगों के साथ मिल कोई इस भीषण समस्या के हल पर कुछ पहल कर सकें।

वृक्षारोपण मुहिम ने शामिल स्थानीय निवासी

पर्यावरणविद श्री ज्ञानेन्द्र रावत ने अपने संबोधन में कहा कि वृक्ष हमारे जीवन का आधार हैं। इनके बिना मानव जीवन की कल्पना ही बेमानी है। यह बचेंगे तो हम रहेंगे। इसलिए वृक्षों को बचाना होगा। अपनी जीवनशैली को बदलना होगा और प्रकृति प्रदत्त संसाधनों के अति दोहन पर अंकुश लगाना होगा। तभी हम पर्यावरण की रक्षा कर पायेंगे।

इस कार्यक्रम में सनवैली इंटरनेशनल स्कूल के सौ सवा सौ छात्र -छात्राओं ने पेन्टिंग प्रतियोगिता में भाग लेकर अपनी तूलिका के माध्यम से पर्यावरण रक्षा की दिशा में जनमानस से जागृति की अपील की और पार्क में वृक्षारोपण कर अपनी सहभागिता का परिचय देकर यह साबित किया कि पर्यावरण रक्षा हेतु वह हर सहयोग करने को तैयार हैं। उल्लेखनीय है कि हरियाली बोल, मिशन 100 करोड़ ट्री, ज्ञान किरण फाऊंडेशन, इनरव्हील क्लब इंदिरापुरम, अनिला रामपुरिया मेंटर्स,सुनीता कोआपरेटिव लिमिटेड की सीईओ सुनीता अग्रवाल के सहयोग से नरचर प्लानेट द्वारा आयोजित इस वृक्षारोपण कार्यक्रम में स्थानीय पार्षद श्रीमती नीलम भारद्वाज सहित समीपस्थ आवासीय सोसाइटी के लोगों ने बढ़ चढ़ कर भाग लिया।

Share

Leave a comment

Your email address will not be published.


*